Saturday, December 13, 2014

एक बार चार चीजो की हड़ताल हो जाती है।

1 चूत
2 लंड
3 झाट
4 मम्मे (boobs)

पृथ्वी का संचार रुक जाता है।

देवता गण परेशान हो जाते है।

एक देवदूत को पृथ्वी पर भेजते है।

देवदूत पहल लंड के पास जाते है।

देवदूत- मादर चोद तुमने हड़ताल क्यों कर दी।

लंड- साहब आपने चूत का साइज़ इतना बड़ा कर दिया है की कब हम चूत में जाते है कब बाहर आते है पता ही नहीं चलता।

इसलिए हड़ताल की है।

फिर देवदूत चूत के पास जाते है।
देवदूत- तुम्हारी कौनसी माँ चुद गयी जो हड़ताल कर दी।

चूत- साहब आपने लंड का साइज़ इतना छोटा कर दिया कब अन्दर जाते है कब बाहर आते है। पता ही नहीं चलता है।

इसलिए हड़ताल की है।

फिर देवदूत झाटो के पास जाते है।

देवदूत- भोसड़ी के तुमने क्यों हड़ताल करदी।

झाट- साहब लडाई तो चूत और लंड की होती हैं ।लकिन हर बार दो चार सैनिक हमारे मारे जाते है।
आखिर में देवदूत मुम्मो के पास जाते है।

देवदूत- बहन चोद तुम्हारी कौन सी माँ चुद गयी जो हड़ताल कर दी

मुम्मे- साहब लडाई तो होती हैं चूत और लंड की। सैनिक झाटो के मरते है और सबसे पहले पकडे  हम जाते है।?😆😆😆😆😆😆😆😛
गब्बर: अरे ओ सांबा, तेरा लंड खड़ा है क्या?
सांबा: हाँ सरदार खड़ा है।
गब्बर: तो लगा निशाना मैसेज पढ़ने वाले की गांड में, आज-कल कोई मैसेज नहीं कर रहा!

No comments:

Post a Comment